त्रिपुरा प्रकरण: जानिए क्या है त्रिपुरा शिक्षकों का मैटर

त्रिपुरा प्रकरण : दरअसल त्रिपुरा में सर्व शिक्षा अभियान के तहत रखे गए संविदा शिक्षकों को 2009 से नियमित शिक्षकों के बराबर वेतन दिया जाता है। वहां इन शिक्षकों को मातृत्व अवकाश, पितृत्व अवकाश से लेकर अन्य सभी सुविधाएं नियमित शिक्षकों की तरह दी जाती हैं। यही नहीं हर छह महीने पर नियमित शिक्षकों की तरह वेतन में भी वृद्धि होती है।
इसी महीने तीन सितम्बर को त्रिपुरा के संविदा शिक्षकों का वेतन संशोधित किया गया है। पांच साल पूरा कर चुके स्नातक संविदा शिक्षकों को 21,933 और इससे कम अनुभव वालों को 14,260 जबकि इंटर पास पांच साल से अधिक अनुभव वालों को 17,351 व इससे कम अनुभव वालों को 11,211 वहां की सरकार दे रही है। उत्तर प्रदेश में प्रतिमाह 30,211 वेतन मिल रहा है।
त्रिपुरा के संविदा शिक्षकों को 2009 से नियमित शिक्षकों के समान वेतन मिल रहा है परंतु उनको समायोजित नहीं किया गया था
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

No comments :

Post a Comment

शिक्षक भर्ती परीक्षा हेतु पाठ्यक्रम व विषयवार नोट्स