मनरेगा के मजदूर नहीं, सम्मानजनक मानदेय जल्द

फतेहपुर, जागरण संवाददाता : वित्त विहीन शिक्षक मनरेगा के मजदूर नहीं हैं। उन्हें जल्द ही सम्मानजनक मानदेय दिया जायेगा। यह बात वित्तविहीन शिक्षकों के प्रांतीय सम्मेलन में आए शिक्षामंत्री महबूब अली ने डाक बंगले में पत्रकारों से कही। उन्होंने कहा कि सरकार शिक्षा के प्रति संजीदा है।

सरकार ऐसे प्रयास कर रही है कि प्रदेश में गुणवत्तापरक शिक्षा दी जाए जिससे देश की सर्वोच्च नौकरियों में देश के बडे़ प्रदेश के ज्यादा से ज्यादा प्रतिभागी आईएसएस, आईपीएस, आईएफएस बनने में सफल हों। वित्तविहीन शिक्षकों की बात करते हुए उन्होंने कहा कि इसके लिए प्रक्रिया चल रही है। हर जिले से सीडी मांगी गई है।
उन्होंने कहा कि शिक्षा की बदहाली के लिए पूर्ववर्ती सरकारें दोषी हैं। सपा सरकार शिक्षा की गुणवत्ता के लिए प्रयास कर रही है। यही वजह है कि हमने नया सत्र का लागू किया जिससे सरकारी विद्यालयों में अधिक से अधिक प्रवेश हों। अप्रैल से जुलाई माह तक के समय का सदुपयोग हो सके। सरकारी विद्यालयों में जल्द ही शिक्षकों की कमी को पूरा किया जाएगा। शिक्षकों भर्ती और अन्य व्यवस्था करके शैक्षिक गुणवत्ता लाई जाएगी। नकल विहीन परीक्षा कराना बड़ी चुनौती है। शासन के साथ जिला प्रशासन ने कड़े बंदोबस्त किए हैं। प्रदेश में नकल नहीं हो पाएगी।


सरकारी नौकरी - Government of India Jobs Originally published for http://e-sarkarinaukriblog.blogspot.com/ Submit & verify Email for Latest Free Jobs Alerts Subscribe
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

No comments :

Post a Comment

Breaking News This week