NCTE ने लगाई रोक, अब IGNOU नहीं कराएगा बीएड , केवल एलटी शिक्षकों को ही मिलेगा मोका

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू) से बीएड करने वालों के लिए बुरी खबर है। राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) ने विवि में बीएड पर रोक लगा दी है। प्रदेश में हर साल 1300 बीएड सीटों पर दाखिला होता था। लेकिन अब केवल एलटी शिक्षकों को ही मौका मिलेगा।
इग्नू की क्षेत्रीय निदेशक डॉ. आशा शर्मा ने बताया कि बीएड में हर साल 1300 सीटों पर प्रवेश परीक्षा से दाखिले किए जाते थे। लेकिन इस साल एनसीटीई की ओर से पत्र आया है, जिसमें साफ कर दिया गया है कि बीएड में एडमिशन नहीं किए जाएंगे। केवल एलटी शिक्षकों को ही बीएड में एडमिशन दिया जाएगा।
देहरादून क्षेत्रीय केंद्र में एलटी शिक्षकों के लिए 25 सीटें रखी गई हैं, जिन पर जल्द ही एडमिशन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। वहीं, इग्नू में बीएड बंद होने से प्रदेश के युवाओं को झटका लगा है।
इग्नू में दाखिलों की तिथि बढ़ी
नोटबंदी और बैंकों में लेनदेन संबंधी समस्याओं को देखते हुए इग्नू ने एडमिशन की अंतिम तिथि 30 दिसंबर 2016 से बढ़ाकर 16 जनवरी 2017 कर दी है। अभ्यर्थी सत्र जनवरी 2017 के लिए इग्नू के डिग्री, डिप्लोमा एवं सर्टिफि केट के लगभग 225 कोर्सेज में एडमिशन ले सकते हैं।
ग्रेजुएशन और पीजी कोर्सेज के द्वितीय या तृतीय वर्ष के लिए दोबारा पंजीकरण की तिथि भी 16 जनवरी 2017 तक बढ़ाई गई है। हाल ही में विवि ने मैनेजमेंट एवं बीएड प्रवेश परीक्षा 2016 का परिणाम भी इग्नू वेबसाइट पर जारी कर दिया है।
इग्नू एडमिशन भी कैशलेस
नोटबंदी और कैश की किल्लत के बीच इग्नू ने एडमिशन भी कैशलेस कर दिया है। अब छात्र ऑनलाइन एडमिशन के साथ ही ऑनलाइन शुल्क भी जमा करा सकते हैं। ऑफलाइन का विकल्प भी खुला रखा गया है।
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Big Breaking

Breaking News This week