शिक्षक भर्ती में जमकर हुआ खेल : फर्जी अभिलेख से हथियाई नौकरी, शैक्षिक अभिलेखों के सत्यापन में खुलासा

गोंडा: बेसिक शिक्षक विभाग में शिक्षक भर्ती में जमकर खेल हुआ है। फर्जी अभिलेखों को लगाकर नौकरी हथिया ली गई। इसका खुलासा अभिलेखों के सत्यापन में हो रहा है।
नए मामले में शिक्षा क्षेत्र पंडरीकृपाल के प्राथमिक विद्यालय भिठी पटखौली में तैनात रितु यादव, इमिलिया रूपी में तैनात सीमा यादव व बभनजोत के तरैनीखास में अध्यापक चंद्रवीर सिंह के अभिलेख फर्जी मिले हैं। मामला प्रकाश में आने के बाद विभागीय अधिकारी हरकत में आ गए हैं। संबंधित अध्यापकों का वेतन रोकते हुए नोटिस भेजा गया है।116448 शिक्षक भर्ती में जिले में 600 रिक्त पदों पर सहायक अध्यापकों की नियुक्ति की गई थी। काउंसिलिंग कराकर इन्हें स्कूलों में तैनाती दे दी गई।
विभागीय अधिकारियों ने दो-दो अभिलेखों का सत्यापन कराकर वेतन भी जारी कर दिया। दो अन्य शैक्षिक अभिलेखों के सत्यापन के लिए संबंधित कॉलेज में पत्रवली भेजी गई तो तीन शिक्षकों के अभिलेख फर्जी मिले। विद्यालय ने इसकी जानकारी बीएसए को दी। जिसके बाद अप्रैल में अध्यापकों को नोटिस भेजकर सुनवाई के लिए बुलाया गया। प्रभारी बीएसए ने बताया कि अभिलेख फर्जी होने की पुष्टि हो चुकी है। कार्रवाई के लिए पत्रवली डीएम को सौंपी जा रही है।1पहले भी सामने आ चुके हैं मामले1-72825 शिक्षक भर्ती में जिले में नियुक्ति पाने वाले अध्यापकों में 16 शिक्षकों के अभिलेख पूर्व में फर्जी मिल थे। जिसके बाद सुनवाई के लिए बुलाया गया लेकिन कोई शिक्षक नहीं आया। जिसके बाद पत्रवली डीएम को भेजी गई। तत्कालीन डीएम आशुतोष निरंजन ने कमेटी बनाने का निर्देश दिया था। प्रकरण में तीन सदस्यीय समिति गठित कर जांच सौंपी गई है।1फर्जी शैक्षिक अभिलेख लगाने की बात जांच में साफ हो चुकी है। दो शिक्षिकाओं से सुनवाई भी की जा चुकी है। एक शिक्षक नहीं आए थे। उन्हें दोबारा नोटिस भेजा गया है। बर्खास्तगी की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। 1-डॉ. अविनाश दीक्षित1प्रभारी बेसिक शिक्षा अधिकारी
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Post a Comment

ख़बरें अब तक

Breaking News This week