आचार संहिता में फंसी 125 अभ्यर्थियों की नियुक्ति: UPPSC

जागरण संवाददाता, आजमगढ़ : उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा ग्राम पंचायत अधिकारी पद पर चयनित अभ्यर्थियों की तैनाती भारत निर्वाचन आयोग द्वारा विधानसभा चुनाव-2017 की घोषणा के बाद आदर्श चुनाव आचार संहिता में फंस गई है।
अब चयनित अभ्यर्थी प्रतिदिन जिला पंचायत राज अधिकारी कार्यालय का चक्कर लगाने को मजबूर हैं। उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा ग्राम पंचायत अधिकारी पद पर चयनित अभ्यर्थियों का परिणाम 24 दिसंबर 2016 को हुआ। पंचायत राज निदेशालय द्वारा तीन जनवरी को समस्त जिलों के जिलाधिकारी/जिला पंचायत राज अधिकारियों को चयनित अभ्यर्थियों के योगदान कराने का निर्देश जारी किया गया। चार जनवरी-2017 को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा विधानसभा चुनाव-2017 की घोषणा के बाद आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू हो गई। जिले में तैनाती के लिए 125 अभ्यर्थी प्रतिदिन जिला पंचायत राज अधिकारी कार्यालय का चक्कर लगाने को मजबूर हैं। निदेशक उत्तर प्रदेश पंचायत राज अनिल कुमार दमेले ने सभी जिलाधिकारी/ जिला पंचायत राज अधिकारियों को चयनित ग्राम पंचायत अधिकारियों की नियुक्ति के संबंध में मार्ग दर्शन का निर्देश जारी किया गया है।’ डीपीआरओ कार्यालय का चक्कर लगा रहे अभ्यर्थी1’ निदेशक पंचायत राज ने जारी किए निर्देशचयनित ग्राम पंचायत अधिकारियों की नियुक्ति के संबंध में भारत निर्वाचन आयोग को संदर्भित किया जा चुका है। चुनाव आयोग से गाइड लाइन मिलते ही नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Post a Comment

ख़बरें अब तक