आज का सकारात्मक व् सफल प्रयास के बाद निदेशालय का शांति धरना समाप्त : मयंक तिवारी बीएड/टेट उत्तीर्ण संघर्ष मोर्चा

आज का दिन एक बार फिर आप सभी के लिए सकारात्मक रहा पूरा दिन प्रयास किया गया जो शाम तक सफलता के साथ पूर्ण हुआ। आज सुबह ही साथियों का निदेशालय पहुंचा प्रारम्भ हुआ और संख्या लगातार बढ़ती चली गयी। अधिकारी लगातार एल आई यू से रिपोर्ट प्राप्त कर रहे थे।
आप सभी के वहां मौन बैठ जाने भर से निदेशालय में अन्य कोई कार्य नही हो रहा था। इलाहाबाद टीम अपनी तरफ से पूरा प्रयास कर रही थी। अपने स्रोत से जानकारी प्राप्त की कि संजय सिन्हा जी सीमैट में है तुरन्त ही अपने साथी वहां सीमैट पहुँचे जहाँ नवीन श्रीवास्तव जी ने संजय सिन्हा जी से उनकी कार में ही बात की। संजय सिन्हा जी बेसिक शिक्षा परिषद् के सचिव होने के साथ साथ सीमैट के अधिकारी भी है अतः उन्हें वहां भी बैठना होता है।
नवीन भैया ने जब उनसे शासन से आये हुए पत्र के विषय में पूछा तो संजय सिन्हा जी ने कहा कि, "पत्र तो बाद में आता है आप लोग हमें पहले से ही घेर लेते है। भाई जब से शासन का पत्र प्राप्त हुआ है आपके ही कार्य में लगा हुआ हूँ और आख्या लगभग तैयार है शाम तक शासन को भेज देंगे। इतना कहकर संजय सिन्हा जी चले गए।
इसके बाद पूरी टीम पुनः निदेशालय आई जहाँ सभी को अब तक के घटनाक्रम से अवगत कराया। कुछ देर बाद शिव कुमार पाठक जी, नवीन श्रीवास्तव जी, बी पी मिश्रा जी, प्रदीप तिवारी जी, आर के पांडेय जी, शिवेश मिश्रा जी, काव्य शर्मा जी, सुल्तान अहमद जी, उमेश कुमार जी, पवन द्विवेदी जी, आदि पुनः सीमैट पहुँचे और वहां के सम्बंधित अधिकारी से मुलाकात कर सभी तर्कों को समझ कर जबाब आख्या तैयार कराई।
जबाब लगभग 4बजे तक तैयार हो गया था। सीमैट अधिकारी के अनुसार वो वहां से निदेशालय आये और वहां की विभागीय प्रक्रिया पूर्ण कर फैक्स द्वारा हमारा जबाब शासन को भेज दिया गया।
दोस्तों इस बीच लखनऊ में उपस्तिथि कृपा शंकर तिवारी जी, रविंद्र दादरी जी, राम कुमार पटेल जी, मान बहादुर जी, टीटू भदौरिया जी, मयंक चतुर्वेदी जी, प्रशांत गुप्ता जी, अरविन्द राजपूत जी, नीतेश त्रिपाठी जी, प्रत्यूष मिश्रा जी, अम्रत सागर जी, संदीप वर्मा जी, रवि कुमार जी, आदि सभी जनेश्वर मिश्र लोहिया कार्यालय पहुँचे वहां कोई नही मिला फिर कृपा भाई ने अपने मित्र एम् एल सी व् मुख्यमंत्री जी के बेहद करीबियों में से एक सुनील साजन जी से फोन पर वार्ता की तो पता चला कि वह वहां है तो पुनः सब ने पहुँचकर उनसे मुलाकात की व् पूरी बात बताई। वहां सुरक्षा पुलिस ने पहले टीम को रोकने का प्रयास किया किन्तु सुनील साजन जी ने कहा कि ये टी ई टी वाले है इन्हें आने दीजिये। जब हमारे साथियों ने उनसे कहा कि आप इलाहाबाद फोन करके बोल दीजिये तब उन्होंने कहा कि अभी मेरी मुख्यमंत्री जी से ही मुलाकात होने वाली है और मैं कसम खाता हूँ कि आपकी बात और काम करवा दूँगा।
दोस्तों इलाहाबाद और लखनऊ के सकारात्मक व् सफल प्रयास के बाद निदेशालय का शांति धरना समाप्त कर दिया गया है। शेष प्रक्रिया की जानकारी आपको हमारे द्वारा दी जाती रहेगी। पूरा प्रदेश एकजुट होकर निश्चित रूप से वह कार्य करने जा रहा है जो भविष्य ने एक नजीर बनेगा।
आप सभी के उज्ज्वल भविष्य की कामना के साथ
आपका मयंक तिवारी
बीएड/टेट उत्तीर्ण संघर्ष मोर्चा
उत्तर प्रदेश
Image may contain: 2 people, people sitting, table and indoor
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Post a Comment