शिक्षामित्रों का न सिर्फ समायोजन अवैध हैं बल्कि उनको दूरस्थ माध्यम से कराया गया बीटीसी प्रशिक्षण भी अवैध

शिक्षामित्रों को एस सी आर टी, यू0पी0 द्वारा दूरस्थ माध्यम से कराए गए बीटीसी प्रशिक्षण का अवैध घोषित होना निश्चित।
विदित हो कि शिक्षामित्रों का दूरस्थ बीटीसी प्रशिक्षण SCERT, U.P. द्वारा कराया गया था, जबकि किसी संस्था को दूरस्थ माध्यम से कोर्स के संचालन के लिए मान्यता प्रदान करने वाली गवर्निंग बॉडी ने SCERT, U.P. को दूरस्थ माध्यम से पाठ्यक्रम संचालन की कभी भी कोई अनुमति/मान्यता नहीं प्रदान की हैं।
अतः जब प्रशिक्षण के संचालन करने वाली संस्था ही गैर-मान्यता प्राप्त हैं तो फिर कराया गया प्रशिक्षण भी अवैध हैं।
मेरे द्वारा फ़ाइल आरटीआई में आये जवाब ने उक्त बिन्दुवों को पूर्णतयः स्पष्ट कर दिया हैं। उक्त के साथ ही साथ अन्य कई बिन्दुवों के आधार पर भी शिक्षामित्रों का न सिर्फ समायोजन अवैध हैं बल्कि उनको दूरस्थ माध्यम से कराया गया बीटीसी प्रशिक्षण भी अवैध हैं।
एतैव आगामी निर्णायक सुनवाई में शिक्षामित्रों का प्रशिक्षण सहित समायोजन रद्द होकर मेरे समस्त बीएड टेट साथियों को शिक्षक पद पर नियुक्ति मिलना पूर्णतयः निश्चित हैं। धन्यवाद्
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Post a Comment

Big Breaking

Breaking News This week