UP के कर्मचारियों को चुनावी तोहफा, 7वें वेतन आयोग पर लगी मुहर

अखिलेश सरकार ने उत्तर प्रदेश के करीब 25 लाख अधिकारियों, कर्मचारियों, शिक्षकों व पेंशनरों का वेतन-पेंशन बढ़ा कर चुनावी तोहफा दिया है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई कैबिनेट की बैठक में सातवें वेतन आयोग की रिपोर्ट पर मुहर लगी।
जनवरी से बढ़ा वेतन
प्रदेश के अधिकारियों, कर्मचारियों व शिक्षकों को बढ़ा हुआ वेतन जनवरी 2017 से मिलेगा। कर्मियों को सातवें वेतन का लाभ जनवरी 2016 से देने का फैसला हुआ है। बढ़े हुए वेतन का शेष पैसा कर्मियों को बतौर एरियर दिया जाएगा। समिति ने कर्मचारियों के वेतन (वेतन बैंड और ग्रेड वेतन को जोड़ कर) को 2.57 गुना करने की सिफारिश की है। सातवें वेतन का बकाया पैसा एरियर में किस्तों में दिया जाएगा। राज्य सरकार ने छठे वेतनमान के समय एरियर का भुगतान तीन किस्तों में किया था।
एक और अनुपूरक बजट
कैबिनेट की बैठक में सातवें वेतन आयोग की रिपोर्ट के आधार पर वेतन-पेंशन का लाभ देने व शासन के कामकाज के लिए जरूरी धनराशि का इंतजाम करने की खातिर लेखानुदान संबंधी विधेयक के मसौदे को भी मंजूरी दी गई। इस विधेयक को 21 दिसंबर से शुरू होने वाले विधानमंडल के शीतकालीन सत्र में रखा जाएगा।
इन प्रस्तावों पर भी मुहर
- समाजवादी स्वास्थ्य बीमा योजना को हरी झंडी
- विशेषज्ञ डॉक्टरों को सेवानिवृत्ति के बाद 70 साल की उम्र रखने की छूट
- औद्योगिक निवेश नीति में मेगा परियोजनाओं को मिलेगी रियायतें
- मिहीपुरवा नई तहसील, जसवंतनगर तहसील में जुड़ेंगे नौ गांव
- जौनपुर नगर पालिका परिषद का सीमा विस्तार
- गांधी जयंती 2 अक्तूबर से खादी पर विशेष छूट को मंजूरी
- बंद सिनेमाघरों को चालू कराने के लिए प्रोत्साहन योजना मंजूर
- पुलिस वालों के परिजनों को अदम्य साहस और वीरता राशि पांच लाख देने
- एसटीएफ वालों को स्कार्पियो देने की मंजूरी।
न्यूज़ सोर्स: हिंदुस्तान न्यूज़
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Post a Comment

ख़बरें अब तक