डी बी शर्मा जी से मुलाकात , बीएड/टेट उत्तीर्ण संघर्ष मोर्चा को कोई लेटर नही मिला : मयंक तिवारी

नमस्कार दोस्तों,
मैं देख रहा हूँ अब आप सभी कुछ ज्यादा ही उतावले हो गए है। लखनऊ-इलाहाबाद में क्या हो रहा है आपको घर बैठे ही हर पल की खबर जाननी है। शाम तक प्रतीक्षा करना भी अब आपसे संभव नही हो पा रहा है सिर्फ ऐसे लोगों से मैं कहूंगा तत्काल अपना घर छोड़ दे और लखनऊ पहुँचें
और हर वक़्त वहाँ देखे की अब अधिकारी उठा है, अब बैठा है, अब आया है, अब गया है, अब आपके विषय में बोल रहा है, अब आपके विषय में सोच रहा है, अब आपके विषय में तो सोच भी नही रहा है, कल जो कहा गया वो क्या सही था, यदि सही नही था तो कौन झूठ बोला, नेता बोले या अधिकारी..??????
आज मुझे आप सभी की सोच पर विचार करना पड़ रहा है जहाँ आप सिर्फ घर बैठे सीधे उन पर आरोप लगाना प्रारम्भ कर देते है जिन लोगों ने आपके लिए ना जाने कितने दिन से अपना घर छोड़ रखा है। ना जाने कितना सफर किया है, ना जाने कितने घण्टे किसी दरवाजे पर आँख लगाये खड़े रहे है कि कोई निकले तो अंदर की जानकारी लें और अपनी बात पहुंचायें।
जो लोग अनावश्यक पोस्ट लिख रहे है, जो लोग अनावश्यक समालोचना कर रहे है अब सिर्फ उनसे कहूँगा कि "जिले के किसी सरकारी दफ़्तर में जाएँ और कोई एक काम करके दिखाएँ कि कितने दिन में होता है या कोई एक जानकारी ही जुटा के दिखा दें। तो पता चल जायेगा कि कहाँ कहाँ कितनी ठोकरें खानी होती है और कितने इस तरह के सरकारी दफ़्तर जो आसानी से सही जानकारी देते है..???"
अब उन साथियों से कह रहा हूँ जो अपने नेतृत्व पर विश्वास करते है। आज नितेश त्रिपाठी जी, काव्य शर्मा जी, राहुल गुप्ता जी, अशोक वर्मा जी सुबह अजय सिंह जी के पास उनके ऑफिस गए वहां वो मिले नही तब वहां एक अधिकारी से बात हुई उन्होंने कहा कि "जो लेटर डी बी शर्मा जी द्वारा इलाहाबाद भेजा गया है उसका जबाब वहीँ आएगा आप पहले वहीँ जाकर डी बी शर्मा जी से ही मुलाकात कीजिये।"
वहां से इतनी जानकारी होने के बाद कृपा शंकर तिवारी जी, गणेश दीक्षित जी, मोज़्ज़म भाई, प्रशांत गुप्ता प्रांशु जी, अरविन्द राजपूत जी, एस सी ई आर टी पहुँचे और उन्होंने डी बी शर्मा जी से बात की उन्होंने स्पस्ट शब्दों में कहा कि "हमें इलाहाबाद से कोई लेटर नही मिला है।" जब आपके साथियों ने कहा कि इलाहाबाद से तो यही कहा जा रहा है कि वहां से लेटर फेक्स कर दिया गया है तो वो बोले आप इस विषय में संजय सिन्हा जी से ही बात कीजिये हमें अभी कोई लेटर प्राप्त नही हुआ है।
उधर नितेश भाई अपने साथियों के साथ डी पी सिंह जी के पास पहुँचे उनसे बात की व् मुख्यमंत्री जी से मुलाकात होने के बाद से लेकर अब तक के पूरे घटनाक्रम को बताया और आगे की प्रक्रिया हेतु बात की तो उन्होंने कहा कि आप शिक्षा अनुभाग 5 जाइये और वहां से जानकारी कीजिये कि इलाहाबाद की क्या सूचना है..??? ये सभी साथी वहां भी पहुँचे और बात की।
दोस्तों, यह बहुत ही जटिल व्यवस्था है माँ द्वारा बना भोजन खाने जैसा कोई सरल कार्य नही है कि यहाँ बोला वहां प्राप्त हो गया और भर गया पेट। आपके सभी साथी तन मन धन वचन और प्राण से आपके लिए कार्यरत है। शेष जिस प्रकार अधिकारियों द्वारा घुमाया जा रहा है इसलिए कल सभी साथी पुनः मुख्यमंत्री जी से मिलने का प्रयास करेंगे। अतः आप सभी से विनम्र निवेदन है कि धैर्य धीरज संतोष विश्वास आशा सब बनाये रखें आपका परिश्रम व्यर्थ नही जायेगा।धन्यबाद
आप सभी के उज्ज्वल भविष्य की शुभ कामनाओं के साथ
आपका मयंक तिवारी
बीएड/टेट उत्तीर्ण संघर्ष मोर्चा
उत्तर प्रदेश
No automatic alt text available.
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Post a Comment

Big Breaking

Breaking News This week