अखिलेश की इन योजनाओं पर चला चुनाव आयोग का डंडा

गाजियाबाद। प्रदेश में आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू है। जिले में 11 फरवरी को चुनाव होना है। जिसे लेकर प्रशासन काफी सख्त हो गई है। वहीं प्रशासन और चुनाव आयोग की नजर में प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाएं भी आ गई है।
इसका कारण है अखिलेश यादव का फोटो राशन कार्ड और स्कूली बैग पर है। जिससे उनका प्रचार हो रहा है। इस कारण इनके वितरण पर फिलहाल रोक लगा दी गई है।

जानकारी के मुताबिक वितरण के लिए तकरीबन दस हजार बैग शिक्षा विभाग के अफसरों के पास पहुंच गए हैं। साथ ही करीब पचास हजार से अधिक राशन कार्ड का वितरण होना था। दरअसल प्रदेश सरकार द्वारा जारी किए गए नए राशन कार्ड के कवर और बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में बांटे जाने वाले बैग पर सीएम अखिलेश यादव का फोटो छपा हुआ है।

जिसके वितरण पर अब चुनाव आयोग ने रोक लगा दी है। चुनाव आयोग के मुताबिक यह आचार संहिता का उल्लंघन मामला है। वहीं चुनाव आयोग ने अब सरकारी अफसरों के मोबाइल फोन से सरकारी कॉलर ट्यून भी हटवा दी है। बता दें कि जिले में खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत पचास हजार से ज्यादा राशन कार्ड का वितरण करना बच गया था। इसका वितरण अब रुकवा दिया गया है।

वहीं अखिलेश सरकार द्वारा गरीबों को पिछले दिनों ई-रिक्शा वितरित किया गया था। जिसके बाद उन्होंने रिक्शे के पीछे अखिलेश यादव का फोटो लगवा दिया। अब चुनाव आयोग ने इन्हें भी हटवाने के निर्देश दिए गए हैं।

प्रदेश सरकार की योजनाओं पर चुनाव आयोग की कड़ी नजर को लेकर जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने कहा कि चुनाव आयोग के निर्देशों का हर हाल में पालन कराया जाएगा। इसके लिए डीएसओ और बीएसए को भी निर्देश दिए गए हैं। आदर्श चुनाव आचार संहिता का किसी भी हाल में उल्लंघन नहीं होने दिया जाएगा।
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

No comments :

Post a Comment

शिक्षक भर्ती परीक्षा हेतु पाठ्यक्रम व विषयवार नोट्स