कल त्रिपुरा केस की तरह ही शिक्षामित्रों के मामले का होगा अंतिम निर्धारण : मयंक तिवारी

सुप्रीम कोर्ट ऑफ़ इंडिया
न्यायधीश ऐ के गोयल जी

न्यायधीश यू यू ललित जी
कोर्ट नंबर 13
आइटम नंबर 20
2मई 2017, मंगलवार
•आज की सुनवाई पूर्ण।
•लंच से पहले लगभग 11 बजकर 47मिनट पर केस सुरु हुआ।
•स्टेट ने आज पुनः बहस का प्रारम्भ किया।
•सीनियर एडवोकेट वी मोहना जी ने पीजी बेस बीएड के पक्ष में शानदार पैरवी की।
•NCTE ने भी अपना पक्ष रखा।
•कोर्ट मोहना मेम के तर्कों से सहमत।
•शिक्षामित्रों पर बहस प्रारम्भ हुई जो कि लंच के बाद भी चली। 1से 2बजे तक लंच रहा।
•लंच के बाद केस पुनः 2बजे से 4बजे तक सुना गया।
•स्टेट की तरफ से AAG ने डी बाई चन्द्रचूड़ जी का पूरा आदेश पड़ा।
•रामजेठमलानी जी ने शिक्षामित्रों का पक्ष रखा।
•सीनियर एडवोकेट के वेणुगोपाल जी ने कहा कि शिक्षामित्रों के अवैद्य समायोजन होने के कारण हम योग्य बीएड-टेट पास अभ्यर्थी रिक्त स्थान होने के बाद भी प्रतीक्षा में है। कोर्ट ने कल हमारी रिट 244/2016 पर उनको अपना पक्ष रखने के लिए कहा।
•कोर्ट डीबाई चन्द्रचूड़ जी के फैसले से पूरी तरह संतुष्ट।
•सुप्रीम कोर्ट भी चन्द्रचूड़ जी की तरह ही सचिव व् समायोजन पर शक्त।
•कल पुनः शिक्षामित्रों के मामले से ही प्रारम्भ होगा केस।
•इसके अतिरिक्त किसी भी अंतरिम आदेश में किसी भी तरह के छेड़-छाड़ से कोर्ट का स्पष्ठ मना।
•त्रिपुरा केस की तरह ही इसका होगा अंतिम निर्धारण।
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Big Breaking

Breaking News This week