5940 शिक्षक भर्ती में गड़बड़ी, 463 के खिलाफ FIR : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News

लखनऊ - विज्ञापित पदों की कुल संख्या 6645 है माध्यमिक शिक्षा विभाग ने राजकीय इंटर कॉलेजों में स्नातक
वेतनक्रम के शिक्षकों की भर्ती में फर्जी दस्तावेज लगाने वाले सैकड़ों अभ्यर्थियों के खिलाफ सुबूत जुटाने की कवायद तेज कर दी है।

शासन ने उनके खिलाफ
एफआईआर दर्ज कराने के
साथ ही पुलिस को
पुख्ता सुबूत देने के
निर्देश दिए हैं, ताकि
इन्हें अदालत से कड़ी
सजा दिलाई जा सके। अब
दस्तावेजों के सत्यापन के
बाद ही नियुक्ति पत्र
जारी किए जा रहे हैं।
पिछले करीब एक वर्ष से
राजकीय इंटर कॉलेजों में
5940 खाली पदों पर
भर्ती की प्रक्रिया चल
रही है। हालांकि,
विज्ञापित पदों की कुल
संख्या 6645 है, लेकिन
शारीरिक शिक्षा और
कला वर्ग के 705 पदों
को लेकर कोर्ट केस होने
के कारण उन पर भर्ती
प्रक्रिया स्थगित कर
दी गई है।
इन खाली पदों में से अब
तक महज 1456 पर ही
शिक्षकों को कार्यभार
ग्रहण कराया जा सका
है। 4646 नियुक्ति पत्र
जारी किए गए, लेकिन
एक ही अभ्यर्थी के कई
जगहों पर आवेदन करने
या फिर फर्जी दस्तावेज
पाए जाने के चलते
ज्यादातर पद अभी तक
खाली हैं।
613 फर्जी दस्तावेज,
463 के खिलाफ एफआईआर
जिन अभ्यर्थियों को
नियुक्ति पत्र जारी
किए गए हैं, उनमें से 613
के फर्जी दस्तावेज पकड़
में आ चुके हैं। इनमें से 463 के
खिलाफ एफआईआर दर्ज
कराई जा चुकी है।
बाकी 150 मामलों में भी
प्रथम दृष्टया
फर्जीवाड़ा सामने आ
चुका है, लेकिन शासन के
निर्देशों के मद्देनजर
विभाग रिपोर्ट दर्ज
कराने से पहले कुछ और
सुबूत जुटा लेना चाहता
है।
इसके अलावा सैकड़ों
अभ्यर्थी ऐसे भी हैं,
जिनके नाम अभी जारी
कटऑफ लिस्ट में नहीं आए
हैं, मगर प्रथम दृष्टया
उनके दस्तावेज फर्जी
साबित हो चुके हैं।
माध्यमिक शिक्षा
विभाग इन अभ्यर्थियों
के खिलाफ भी सुबूत
जुटाने के बाद रिपोर्ट
दर्ज कराएगा।
अंकों में अधिक अंतर
वालों को माना संदिग्ध
जिन अभ्यर्थियों के
हाईस्कूल और
इंटरमीडिएट में 45-55
फीसदी अंक हैं और
ग्रेजुएशन की
मार्क्सशीट में 70
फीसदी से ऊपर अंक
दिखाए गए हैं, उनके
दस्तावेजों को संदिग्ध
की श्रेणी में रखने का
फैसला किया गया है।
उनके बारे में
विश्वविद्यालयों
से
15 दिन के भीतर
रिपोर्ट देने को कहा
गया है। चूंकि, उच्च और
माध्यमिक शिक्षा के
प्रमुख सचिव जितेंद्र
कुमार ही हैं, इसलिए
उन्होंने बतौर प्रमुख
सचिव (उच्च शिक्षा)
सभी विश्वविद्यालयों
के कुलसचिवों को पत्र
जारी करके सत्यापन
रिपोर्ट विभागीय ई-
मेल पर भेजने को कहा है।
विज्ञापित पदों की
संख्या : 6645
पद जिन पर चल रही
भर्ती की प्रक्रिया :
5940
कार्यभार ग्रहण करने
वाले शिक्षकों की संख्या
: 1456
अब तक फर्जी पाए गए
अभ्यर्थियों की संख्या :
613
फर्जी अभ्यर्थी जिनके
खिलाफ दर्ज कराई गई
एफआईआर : 463

ताज़ा खबरें - प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती सरकारी नौकरी - Army /Bank /CPSU /Defence /Faculty /Non-teaching /Police /PSC /Special recruitment drive /SSC /Stenographer /Teaching Jobs /Trainee / UPSC
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Breaking News This week