सर्वप्रथम हमारा लक्ष्य बीएड वालों के लिए , परिणाम संभवतः जुलाई माह के प्रथम सप्ताह में आना सुनिश्चित : हिमांशु राणा

उत्तर-प्रदेश में कुल कार्यरत शिक्षकों की संख्या = 585232
इनमे से विवादित लगभग 137000 शिक्षामित्र + लगभग 75000 अकादमिक = 232000
शेष बचे = 376232
अब इनमे से तपसा गैंग या जो भी गैंग टेट मेरिट समर्थक ने बनाया हो = लगभग 72825
इन्हे भी निकाल दिया तो लगभग संख्या तीन लाख बचती है |
चूंकि इतिहास गवाह है कि टेट मेरिट के योद्धा-पुरोद्धा कितने महत्वकांशी हैं कि हर एक नेता को पद चाहिए और फिर उन बड़कू नेता के समर्थक को भी पद की लालसा है इसके अलावा ऐसे जिले जहाँ पदों की संख्या अमूमन सौ भी नहीं है तो वहां टेट मेरिट से कार्यरत सहायक अध्यापकों की बात रखने के लिए पहुंचेगा कौन ?
बहरहाल कई दिनों से देखा जा रहा है कि पद की महत्वकांशा को लेकर एक ऐसा मरहूम संगठन खड़ा करने की कोशिश की जा रही है जिसका भविष्य में कोई अस्तित्व नहीं रहना है क्यूंकि सभी अखरोट तोड़ नेता हैं |
लेखक ने ये पोस्ट इसलिए लिखी है ताकि कई लोगों के संगठन निर्माण का भ्रम निकलकर बाहर आए और वे झांकें कि क्या ये संभव है ? इसके लिए भी ऐसे ही लोग लगे हुए हैं जो हर तरह से हमेशा से गुटबाजी में लगे रहते थे जैसे की नखलऊ समूह , इलाहबाद समूह , पश्चिम समूह , जातिगत समूह आदि आदि ......
स्थिति-परिस्थिति क्या हैं ये सभी समूह भूलकर केवल नेतागिरी में अपना भविष्य झाँपने में लगे हुए हैं जबकि बीएड अभयर्थी की वो संख्या जो हमेशा से लेखक एवं उसकी टीम के किये चिंता का कारण रही है अभी वो आदेश प्राप्त न होने तक अधर में है और आज अपने लक्ष्य से दूर हमारे ऐसे साथी जो अभी बाहर हैं उन्हें भुलाकर 72825 में चयनित ही नहीं कुछ अचयनित भी महत्वकांशी हो चुके हैं |
हिमांशु राणा या उसका समूह कभी आपसे ये सब दकियानूसी या क्षितिज पर होने वाली बातें न करके आपको धरातल की ही बातें समझाया है और हमारा 72825 में चयनितों पर कोई जोर नहीं है वे स्वतन्त्र हैं क्यूंकि उसमे आधे से ज्यादा आबादी बिना संघर्ष के अंदर आई है और हकीकत में किसी जमाने में संघर्ष करने वाले बाहर हैं - जिनके लिए शिद्दत से हिमांशु राणा अपनी टीम के साथ लगा और अंत तक कार्य किया है राजनीति नहीं |
इसके अलावा जब मेरी नियुक्ति हुई तो 72825 का एक व्यक्ति तक आस-पास दिखाई नहीं दिया था जबकि हमारे ही बीआरसी आदि जगह पर मेरी मदद हर उस व्यक्ति ने की जो मुझे जानता तक नहीं था केवल मीडिया के माध्यम से मुझसे मुखातिब था |
तो यहाँ स्पष्ट रूप से सर्वप्रथम हमारा लक्ष्य है बीएड वालों के लिए जिसके लिए हम सभी प्रकार से तैयार हैं और जिसका परिणाम संभवतः जुलाई माह के प्रथम सप्ताह में आना सुनिश्चित है , चयनित नेताओं की आँख में फर्क आ सकता है जबकि अभी ऐसे भी बाहर हैं जो टेट मेरिट के लिए अपना सबकुछ झोंक दिए थे कभी |
बाकी 72825 गैंग स्वतन्त्र है - अब इस देश में मिली हुई स्वतंत्रता का लुत्फ़ तो उठाया ही जा सकता है लेकिन शर्म उन्हें आनी चाहिए जो तीन में न तेरह में जैसे कुछ भंगेड़ी अचयनित चयनितों से पोस्ट डलवाकर अपने आप को 72826 वां अध्यक्ष मान रहे हैं |
फिलहाल उनके तदर्थ आधार पर चयनित नेताओं का भी अवश्य दिखाऊंगा कि किसी जमाने में वे कैसे पैरों में पड़े थे |
हर हर महादेव
धन्यवाद
आपका_हिमांशु राणा
Image may contain: 1 person, standing, shoes and text
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Post a Comment

ख़बरें अब तक