UPTET शिक्षक भर्तियों और टीईटी विवाद पर शिव कुमार पाठक की नई पोस्ट

UPTET शिक्षक भर्तियों और टीईटी विवाद पर शिव कुमार पाठक की नई पोस्ट : सादर अभिनंदन , अनुच्छेद 142 का प्रयोग करके देश की सबसे बड़ी अदालत चाहे तो RTE एक्ट के अनुपालन में आप सभी की सीधे नियुक्ति का आदेश कर सकती है ।किंतु वे सीधे ऐसा करने से बच रहे हैं, प्रश्न उठता है क्यों ??????
इस क्यों का जवाब यह है कि देश की सबसे बड़ी अदालत यदि कोई अंतरिम या अंतिम आदेश करती है तो उसका प्रभाव पूरे देश में होता है ।
वे जब भी कुछ लिखाते हैं अपने आदेश में तो उत्तरप्रेद्श या किसी राज्य के बारे में सोचकर नहीं बल्कि उनकी सोच राष्ट्रीय होती है और उनके जेहन में समूचा राष्ट्र हो है ।
अब जरा सोचिए कि देश की सबसे बड़ी अदालत संविधान के अनुच्छेद 142 में प्रदत्त अधिकारिता का प्रयोग करते हुए आप सभी लगभग 50000 याचियों की सीधी नियुक्ति का आदेश कर दे ।और यह खबर देश भर में जाय की 50000 याचियों की सीधे नियुक्ति देश की सबसे बड़े अदालत ने करवाई ।इसका परिणाम क्या होगा ????
पूरे देश में शिक्षकों के लगभग 12 लाख पद रिक्त हैं ।ऐसी स्थिति में मध्य प्रदेश ,बिहार,झारखण्ड,बंगाल,महाराष्ट्र उत्तरांचल,छत्तीसगढ़ हर जगह के लोग अपनी नियुक्ति के लिए सीधे सुप्रीम कोर्ट पहुचेंगे ये स्थिति अत्यंत ही दुविधाजनक होगी ।
इसी लिए आपकी राह के काँटों को हटाने का काम देश की सबसे बड़ी अदालत ने किया ।किन्तु उस साफ़ रास्ते पर चलना आप को ही है ।शिक्षा मित्रों के समायोजन पर रोक लगाकर समायोजन विवाद का निपटारा हाइकोर्ट से देश की सबसे बड़ी अदालत ने करवाया किन्तु रोक सिर्फ इस लिए लगायी है कि उनका विकल्प बन कर आप आ जाएं फिर उनकी विदाई की जाय ।

इसी क्रम में आप सभी को कल से अवगत कराया जा रहा है कि पूरे प्रदेश के समस्त याचियों को आज और कल दो दिन माननीय प्रधानमंत्री महोदय की जौनपुर की रैली में डटे रहना है ।

बहुत से लोग अपनेघरों से निकल भी चुके हैं बहुत से लोग आज निकल रहे हैं ।हम भी कुछ ही देर में सिराज ए हिन्द जौनपुर की धरती पर होंगे ।

मोर्चे की जौनपुर इकाई ने कल ही डेरा डाल दिया है ।और पार्टी कार्यालय ने आपका मामला लिखित रूप से लेकर कल शाम को ही #PMO मेल कर दिया है

बारी आप सभी की है ।रैली स्थल और पार्टी कार्यालय पर आप ही आप दिखाई देने चाहिए आज से कल तक ।तो निकलिए अपने घरों से मिलते हैं जौनपुर में ।

और हाँ आलोचना हमेशा कुछ करने वाले की ही होती है ।
कुछ न करने वाले सदैव आलोचना और प्रशंशा से परे होते हैं ।

तो उठिये ,जागिये ,निकलिए अपने घरों से मोर्चा आप से दो दिन मांग रहा है ।
शेष शीघ्र ही फिर से ......
आपका
एस के पाठक
टेट मोर्चा उत्तरप्रदेश
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Big Breaking

Breaking News This week