शिक्षामित्र अवैध समायोजन बचाने हेतु एसएलपी सिविल 32599/2015 सुप्रीम कोर्ट मे दायर : बी टी सी ट्रेनी वेलफ़ेयर असोसियेशन

शिक्षा मित्र अवैध समायोजन मामला बी टी सी ट्रेनी वेलफ़ेयर असोसियेशन , उत्तर प्रदेश द्वारा राज्य सरकार की अवैध समायोजन बचाने हेतु सुप्रीम कोर्ट मे दायर
एसएलपी सिविल 32599/2015 उत्तर प्रदेश राज्य बनाम आनंद कुमार यादव मे रिटेन आर्गुमेंट्स कोर्ट मे फ़ाइल कर दिये गए हैं । सीनियर अधिवक्ता प्रदीप कान्त जी द्वारा फ़ाइल रिटेन आर्गुमेंट्स का फाइलिंग प्रूफ संलग्न किया जा रहा है । सीनियर अधिवक्ता आर बसंत जी द्वारा भी रिटेन आर्गुमेंट्स फ़ाइल कर दिया गया है । अवैध समायोजन रद्द होने से रिक्त होने वाले पदों पर एकमात्र अभ्यर्थियों के चयन के लिए प्रतिबद्ध असोसियेशन द्वारा सुप्रीम कोर्ट मे आरटीई एक्ट लागू होने के बाद प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों की संख्या सुप्रीम कोर्ट के समक्ष रखी गयी । सुप्रीम कोर्ट को यह भी बताया गया की अवैध समायोजन के चलते हजारों बी टी सी अभ्यर्थी बेरोजगारी से पीड़ित है । रिटेन आर्गुमेंट्स का संबन्धित पृष्ठ संलग्न किया जा रहा है । असोसियेशन किसी बैच विशेष का नही बल्कि समस्त बी टी सी का प्रतिनिधित्व करती है । अगली पोस्ट मे शिक्षा मित्रों के नामी अधिवक्ताओं के तर्कों को कैसे गलत साबित किया गया , इस से संबन्धित पोस्ट लिखी जाएगी । बी टी सी ट्रेनी वेलफ़ेयर याची तथा आर्थिक सहयोग देने वाले अभ्यर्थियों का पुनः आभार व्यक्त करती है । आप सभी के आर्थिक सहयोग के बलबूते ही असोसियेशन सरकार और शिक्षा मित्रों के बड़े बड़े अधिवक्ताओं का सामना करने और उन्हे जवाब देने मे सक्षम रही ।

sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Post a Comment