शिक्षक भर्ती में फर्जी मार्कशीट प्रकरण के घोटालेबाजों को बचाने में लगे अधिकारी : एक रोल नंबर, दो डिग्री : 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती Latest News

शिक्षक भर्ती में फर्जी मार्कशीट प्रकरण के घोटालेबाजों को बचाने में अधिकारी लगे.मोहलत के बाद भी एसआईटी को नहीं दिया रिकार्ड, एसआईटी अब संदेशवाहक भेज लेगी जवाबडा. बीआर अंबेडकर यूनिवर्सिटी के मार्कशीट घोटाले में फंसे अधिकारियों और कर्मचारियों को बचाने के लिए हर तिकड़म आजमाई जा रही है।
हाईकोर्ट की निगरानी में जांच कर रही एसआईटी का काम मुश्किल से मुश्किल करने के लिए उसे कोई रिकार्ड उपलब्ध नहीं कराया जा रहा है। ताजा मामला 2005 से 2009 के बीच तैनात रहे अधिकारियों और कर्मचारियों का विवरण उपलब्ध कराने का है।
इसके लिए यूनिवर्सिटी ने दस दिन की मोहलत मांगी थी। लेकिन समय गुजर जाने के बाद भी रिकार्ड नहीं दिया गया है।
एसआईटी ने अभी सिर्फ 2004 के सत्र की रिपोर्ट दर्ज कराई है। इसमें कर्मचारियों से लेकर आला अफसर तक नामजद कराए गए। इसके बाद अब 2005 से 2009 तक के सत्रों की रिपोर्ट दर्ज कराई जानी है। इसके लिए इस अवधि में तैनात रहे कुलपति, रजिस्ट्रार, बीएड सेक्शन में तैनात रहे तमाम अधिकारियों और कर्मचारियों का रिकार्ड मांगा गया था।
इसे भेजने के बजाय 14 दिसंबर तक की मोहलत मांग ली गई। लेकिन तारीख बीत जाने के बाद भी रिकार्ड नहीं भेजा गया। केस से जुड़े सूत्रों ने बताया कि एसआईटी अब विशेष संदेशवाहक भेजकर इस बारे में लिखित जवाब लेगी। इसके बाद हाईकोर्ट को अवगत कराया जाएगा।
करोड़ों नहीं, अरबों का घोटाला
फर्जी मार्कशीट प्रकरण
मार्कशीट घोटाला करोड़ों का नहीं, बल्कि अरबों रुपये का है। 25 हजार मार्कशीट पहले ही पकड़ में आ चुकी हैं। अगर बीएड की इतनी सीटों पर दाखिले और पढ़ाई का खर्च जोड़ा जाए तो राशि अरबों में आती है। यह सिर्फ पांच बीएड सत्र की बात है। जबकि जाली मार्कशीट सभी फैकल्टी से जारी की गई हैं। जांच का दायरा 1999 से 2014 तक बढ़ाया जा रहा है।
एक रोल नंबर, दो डिग्री
029992.... यह एनरोलमेंट नंबर है बीए फाइनल वर्ष 2005 का। इस पर डिग्री जारी की गई सेंट जोंस कॉलेज में पढ़े प्रदुम्न कुमार सिंह को। उन्हें 1200 में से 745 अंक मिले लेकिन गोपनीय चार्ट चेक कराया तो पता चला कि इसी नंबर पर नाम दर्ज है ओम प्रकाश सिंह पुत्र राम प्रकाश सिंह का। उसे 1200 में से 725 अंक मिले हैं। प्रदुम्न ने इसकी शिकायत पिछले साल यूनिवर्सिटी से की तो तत्कालीन रजिस्ट्रार ने जांच के आदेश दे दिए। प्रदुम्न ने सोमवार को सीओ हरिपर्वत को शिकायती पत्र देकर बताया कि गोपनीय चार्ट में अभी भी ओम प्रकाश सिंह का नाम दर्ज है।
http://e-sarkarinaukriblog.blogspot.com/

ताज़ा खबरें - प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती सरकारी नौकरी - Army /Bank /CPSU /Defence /Faculty /Non-teaching /Police /PSC /Special recruitment drive /SSC /Stenographer /Teaching Jobs /Trainee / UPSC
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Breaking News This week