90 / 105 के मुद्दे पर डाली याचिका को खारिज , लड़ने का असली मजा तब है जब ज़माना आपका दुश्मन हो जाए : हिमांशु राणा

लड़ने का असली मजा तब है जब ज़माना आपका दुश्मन हो जाए -
हर हर महादेव
मा० उच्च न्यायालय इलाहाबाद ने आज 90 / 105 के मुद्दे पर डाली याचिका को खारिज कर दिया है | चूंकि लेखक उससे प्रभावित है परन्तु आपने आज तक लेखक द्वारा उस पर कोई भी टिप्पणी या कटाक्ष नहीं देखा होगा |
ये याचिका ऋषि श्रीवास्तव के नाम से अधिवक्ता विनय कुमार श्रीवास्तव के द्वारा डाली गई थी और जैसा सुना है अभी एक अवमानना याचिका भी दाखिल है |
अधिवक्ता हैं पैसा आना चाहिए कैसे भी , कहीं से भी उसी को जरिया बनाया जाता है |
बहरहाल एनसीटीई नॉर्म्स थोड़ा पढ़ लेते या अधिवक्ता विनय हमारी बात मान लेते तो आज विद्यालय जा रहे होते , आपको जानकर हैरानी होगी कि ये भी उसी याचिका के अंतर्गत है जिस याचिका पर जीओ के विक्रेता सेंगर उर्फ़ लक्ष्मी वाले सेंगर (लक्ष्मी_मने_पैसा) नियुक्त हुए हैं |
लेकिन जो है सो है और सभी के सामने है |
आज सेंगर जी को अखिलेश त्रिपाठी की पोस्ट पर भिड़ते हुए देखा , सेंगर उस स्वाभिमान से जवाब दे रहा था जिस स्वाभिमान से पैसा नहीं दे पा रहा है , आखिर क्यों ?
सेंगर को ये तो पता है कि महाराज जी अब्रॉड जा रहे हैं लेकिन ये नहीं पता कि जीओ कब आ रहा है और पहले कहते थे पैसा पहुंचा जीओ आया , जीओ मेरी जेब में रखा है फला फला |
सबसे सही आइटम है पप्पू जो जीओ नहीं आने पर जीओ लाने वालों को उठाने को कहता था जबकि हकीकत में दिल्ली में दही के लिए पीटा था |
बहरहाल जीओ वालों से , जीओ रिटर्न पैसे वालों से इतना ही कहूंगा कि लक्ष्मी को पकड़ो सेटिंग वहां से थी और कोई भी जैसा कि मैं भी न्यायिक कदम उठा रहा हूँ लक्ष्मी का नाम जरूर लिखाये |
फिलहाल सेंगर मस्त , प्रतिनिधि पस्त और जीओ के लिए खाता चलाने वाले सेंगर के मसीहा
Image may contain: 6 people, people standing and outdoor
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Post a Comment

Big Breaking

Breaking News This week