UPTET समायोजन रदद् होने पर बीटीसी धारकों को मिल सकती है शिक्षक पद ओर नौकरी: अरशद अली की कलम से

मो. अरशद :- 12460 सहायक अध्यापक के पदों पर विज्ञापित भर्ती पर रोक लगी है । सरकार का कहना है की समीक्षा की जा रही है लेकिन वास्तव मे कोई समीक्षा नही हो रही है तथा यह रोक अनिश्चितकालीन है । कुछ लोग इस भर्ती मे पद बढ़वाने की मांग कर रहे हैं ।
उनका यह सोचना का की सरकार के सामने प्रभावी ढंग से मांग रखी जाए तो पद बढ़ जाएंगे क्यूकी सेवा निवृत्ति से  पद रिक्त हुए हैं । कोई भी कार्य नामुमकिन नही है ।

सभी को यह ज्ञात होना चाहिए की यह सरकार भी शिक्षा मित्र हितैषी है और मुख्यमंत्री से लेकर प्रधानमंत्री तक शिक्षा मित्रों का साथ देने की घोषणा कर चुके हैं । लगभग 40,000 शिक्षा मित्र समायोजन से वंचित रह गए हैं । सरकार ने इनके लिए पद सुरक्षित रखे हैं इसलिए 30,000 की मांग करने पर 12460 ही पद बीटीसी वालों को मिले । कम पद मिलने के जिम्मेदार वे बीटीसी अभ्यर्थी भी हैं जिनहोने पहले 5000 फिर 8000 पदों पर ही हामी भर ली थी ।

सरकार सुप्रीम कोर्ट के फैसले के इंतज़ार मे इन पदों को रोके बैठी है । जब तक समायोजन रद्द नही होगा तब तक ये पद किसी भी हाल मे बीटीसी वालों को नही दिये जाएंगे । नौकरी की चाह रखने वाले सभी बीटीसी अभ्यर्थियों को यह बात समझनी होगी और एकजुट होकर अवैध समायोजन रद्द कराना होगा ।

बीटीसी 2014 और 2015 बैच के अभ्यर्थियों की परीक्षाएँ कल से प्रारम्भ हो रही हैं । बीटीसी ट्रेनी वेलफ़ेयर असोसियेशन उनकी सफलता व उज्ज्वल भविष्य  की कामना करता है । बीटीसी 2014 और 2015 बैच के अभ्यर्थियों को यह विचार करना होगा की बीटीसी पूरी हो जाने के बाद वो क्या करेंगे ? बेरोजगारों की कतार मे खड़े होकर अपने भाग्य को कोसेंगे या फिर अभी से अपने लिए पदों का इंतज़ाम करेंगे ।

सभी बैच के अभ्यर्थी ये भली भांति की समझ के की अवैध समायोजन को रद्द कराये बगैर उनका भविष्य अंधकारमय ही रहेगा । सुप्रीम कोर्ट मे अगर एकेदेमिक समर्थक जीते तो कम गुणांक वालों को नौकरी इसी केस के जीतने के बाद मिलेगी । इसी प्रकार यदि टी ई टी मेरिट लागू हुई तो कम टी ई टी अंकों वाले अभ्यर्थियों की नौकरी की गारंटी भी इसी केस की जीत से मिलेगी । हम बीटीसी वाले हाइ कोर्ट से जीते हुए हैं बस सुप्रीम कोर्ट मे जीत से कुछ कदम दूर हैं । आइये हम सब एकजुट होकर अपने हक़ की  लड़ाई लड़ें ।
sponsored links:
ख़बरें अब तक - 72825 प्रशिक्षु शिक्षकों की भर्ती - Today's Headlines

No comments :

Big Breaking

Breaking News This week